fbpx

तीन बैंकों के विलय को स्वीकृति

1: प्रधानमंत्री की अध्यक्षता में केन्द्रीय मंत्रिमण्डल ने बैंक ऑफ बड़ौदा, विजया बैंक तथा देना बैंक के विलय की योजना को मंजूरी दे दी है।

2: विलय के बाद बैंक ऑफ बड़ौदा हस्तांतरिती बैंक होगा जबकि विजया बैंक तथा देना बैंक हस्तांतरणकर्ता बैंक होंगे।

3: यह भारत में बैंकों का पहला त्रिपक्षीय विलय होगा।

4: विलय के बाद यह बैंक भारत का दूसरा सबसे बड़ा सार्वजनिक बैंक होगा।

5: विलय की यह योजना 1 अप्रैल 2019 से प्रभावी हो चुकी है |

6: योजना शुरू होने पर हस्तांतरणकर्ता बैंकों के सभी व्यवसाय, परिसम्पत्तियाँ, अधिकार, स्वामित्व, दावे, लाइसेंस, स्वीकृतियाँ, अन्य विशेषाधिकार और सभी उधारी, देनदारियाँ एवं दायित्व हस्तांतरिती बैंक को हस्तांतरित कर दिये जायेंगे।

7: हस्तांतरणकर्ता बैंक के सभी स्थायी और नियमित अधिकारी और कर्मचारी हस्तांतरिती बैंक में अधिकारी और कर्मचारी होंगे। हस्तांतरिती बैंक द्वारा दिया जाने वाला वेतन ससवूंदबमद्ध हस्तांतरणकर्ता बैंकों के वेतन और भत्ते से कम नहीं होंगे।

8: हस्तांतरिती बैंक का बोर्ड यह सुनिश्चित करेगा कि हस्तांतरित होने वाले कर्मचारियों और अधिकारियों के हितों पर कोई आँच न आए।

9: हस्तांतरिती बैंक हस्तांतरणकर्ता बैंक के शेयर धारकों को शेयर विनिमय अनुपात के अनुसार शेयर जारी करेगा। हस्तांतरिती बैंक तथा हस्तांतरणकर्ता बैंकों के शेयर धारकों को शेयर विनिमय अनुपात के संदर्भ में कोई शिकायत होने पर वे उसे विशेषज्ञ समिति के माध्यम से उठा सकेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.